177 News

News

उज्जैन: धार्मिक, सांस्कृतिक और साहित्यिक दृष्टि से अति महत्वपूर्ण शहर उज्जैन के आकर्षण और सुन्दरता को निखारना मेरी सर्वोच्च प्राथमिकता है, इस दिशा में उद्यानों का नवनिर्माण और विकास बुनियादी हैसियत रखता है, जिस पर अविलम्ब कार्य आरंभ कर हम अपनी मंज़िल तक पहुंचेंगे। यह संकल्प है आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल का । इस सिलसिले आपने उद्यान विभाग से सम्बंधित जिम्मेदार अधिकारियों को कार्यवाही तत्काल आरंभ करने के लिये विशेष रुप से निर्देशित कर दिया है । बैठक आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल के निर्देशों के परिपालन में उपायुक्त श्री मनोज पाठक द्वारा एक बैठक आयोजित की गई जिसमें आयुक्त की मंशानुसार उद्यान विकास और उद्यानों के नव निर्माण इत्यादि के सम्बंध में विचार विमर्श कर सम्बंधितों को आवश्यक प्रस्ताव तैयार कर प्रस्तुत करने हेतु कहा गया। श्री पाठक ने सभी उपस्थित अधिकारियों को बताया कि आयुक्त महोदया की मंशा क्या है और उसे किस प्रकार कार्य रुप प्रदान करना है । बैठक में निर्णय लिया गया कि: 0 बारिश से पूर्व प्रत्येक झोन में 5, 5 हजार बोगन बेलिया के पौधे लगाए जाने के प्रस्ताव तत्काल आज ही प्रेषित किये जाएं, आयुक्त महोदया की स्वीकृति अनुसार इन प्रस्तावों पर त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। 0 झोन वार उचित स्थानों का चयन कर वृक्षा रोपण की कार्य योजना तत्काल प्रस्तुत करें । इसमें बड़े और उंची हाईट के वृक्षों, कव्हर्ड सुरक्षित स्थानों फेन्सिंग इत्यादि को समाहित किया जाए। 0 शहर के बड़े उद्यानों के विकास की डीपीआर तत्काल तैयार करें । डीपीआर तैयारी में कंसल्टेंट श्री संजय अग्रवाल की सेवाएं ली जाएं । 0 प्रत्येक झोन में एक एक नक्षत्र उद्यान निर्माण हेतु उपयुक्त स्थान का चयन कर तत्काल प्रस्तावित करें, जहां करीब 35000 वर्ग फिट का एरिया उपलब्ध हो कर जंतर मंतर की भांति वहां निर्माण एवं विकास कार्य कराए जा सकें । 0 प्रत्येक झोन क्षैत्र में एक माॅडल उद्यान विकसित किये जाने की डीपीआर तैयार कर प्रस्तुत करें । 0 कालीदास उद्यान, विष्णु सागर, पुरुषोत्तम सागर, शहीद पार्क, नृसिंह घाट, छत्री चैक, फव्वारा चैक, भगतसिंह उद्यान इत्यादि को पहली प्राथमिकता में रखते हुए प्रस्ताव दें। 0 डिवाईडर एवं रोड साईड के रिक्त स्थानों पर विशेष पौधारोपण किया जाए । इन स्थानों पर पर्याप्त फेन्सिंग की जाए । 0 उद्यानों के रख रखाव और सुरक्षा के क्रम में कर्मचारियों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है, लिहाजा कर्मचारियों की झोनवार वर्तमान स्थिति दर्शाते हुए अपेक्षित कर्मचारियों की मांग के प्रस्ताव प्रस्तुत करें । 0 बड़े उद्यानों से लगी भूमि पर पार्किंग हेतु पर्याप्त स्थान निर्धारित करने तथा उद्यानों में सफाई एवं स्वच्छता को शत प्रतिशत सुनिश्चित करने की कार्य योजना भी प्रस्तावित करें । उपरोक्त झोनवार प्रस्ताव आयुक्त सुश्री प्रतिभापाल को प्रस्तुत किये जाकर उनकी मंशानुसार उनके ही निर्देशन में उद्यान निर्माण एवं विकास की कार्यवाही की जाएगी । उपायुक्त श्री मनोज पाठक द्वारा ली गई इस बैठक में सहायक यंत्री श्री योगेन्द्र गंगराड़े, उपयंत्री श्री मनोज राजवानी, श्री नरेश जैन, जनसम्पर्क अधिकारी अहमद रईस निज़ामी, उद्यान विभाग के लिपिक श्री मुकेश सिंगारिया, कंसल्टेंट श्री संजय अग्रवाल सहित विभिन्न झोन कार्यालयों में पदस्थ यंत्रीगण सम्मिलित रहे।

newsimage

Photo

newsimage