232 News

News

उज्जैन: उज्जैन को पूरी तरह खुले में शोच मुक्त करने के प्रयास निरन्तर जारी हैं और इसमें निगम को सफलता भी मिली है । किन्तु आवश्यकता इस बात की है कि हम सम्बंधित नागरिकों को पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध कराएं ताकि इस दिशा में शत प्रतिशत सफलता को स्थायित्व प्रदान किया जा सके । इस कार्य को अपनी प्राथमिकता में रखें । यह बात आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल ने कही । आप खुले में शोच मुक्ती के क्रम में किये जा रहे प्रयासों की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रही थीं । आपने कहा कि यह कार्य निरन्तर प्रयास चाहता है, जरा सी लापरवाही या उदासीनता हमें प्रभावित कर सकती है । इसलिये निगम के समस्त जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी इस पर सतत नजर रखें और जहां जो कार्यवाही अपेक्षित हो उसके लिये पृथक से किसी निर्देश की प्रतीक्षा न करते हुए अपनी जिम्मेदारी पूरी करें । आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल ने कहा कि: 0 शहर में जितने शोचालय और मुत्रालय संचालित हैं उनका तत्काल सूक्ष्मता के साथ निरीक्षण किया जाए और देखा जाए कि उनकी वर्तमान स्थिति क्या है । 0 जहां जहां जो मरम्मती कार्य अपेक्षित हों वे तत्काल कराएं जाएं । 0 शोचालयों की छत, दरवाजे, उनमें पर्याप्त पानी, बिजली और साफ सफाई की व्यवस्था शत प्रतिशत सुनिश्चित करें । 0 शहर के विभिन्न स्कूलों, धर्मशालाओं, होटल, लाज, पेट््रोल पम्प इत्यादि का भी निरीक्षण किया जाए और वहां के शोचालयों में समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चत कराई जाएं । 0 जिन क्षैत्रों में सार्वजनिक शोचालय न हों या पर्याप्त न हों वहां अनिवार्य रुप से चलित शोचालय रखवाए जाएं । 0 शोचालयों, मुत्रालयों में नियमित कीटनाशक दवाईयों का छिड़काव करते हुए इनकी नियमित सफाई सुनिश्चित की जाए । आयुक्त सुश्री पाल ने कहा कि आप समस्त अधिकारी कर्मचारी पूर्व में यह सब काम कर चुके हैं, उसी अनुभव को आधार बना कर यह प्रयास करें कि उज्जैन पूरी तरह खुले में शोच से मुक्त हो सके ।

newsimage

Photo

newsimage