363 News

News

उज्जैन : आयुक्त प्रतिभा पाल द्वारा उज्जैन को स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में उज्जैन को उच्च स्थान दिलाने हेतु स्वास्थ्य विभाग को शहर की सफाई व्यवस्था हेतु सख्त निर्देश दिये गए है। आयुक्त के निर्देशों का पालन करते हुए उपायुक्त श्री योगेन्द्र पटेल द्वारा स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत “प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन नियम 2016 के अनुपालन में मंगलवार को ग्राण्ड होटल में शहर के कबाड़ा व्यवसाईयों के साथ बैठक आयोजित की गई। जिसमें शहर के लगभग 35 कबाड़ी उपस्थित हुए। बैठक में मुख्य रूप से स्टार रेटिंग के तहत कचरे की मात्रा कम करने एवं कचरे का रिसाईकल यूज पर चर्चा की गई। साथ ही कबाड़ एवं पन्नी बिनने वाले रेगपिकर्स पर भी चर्चा की गई एवं नगर पालिक निगम की पार्टनर संस्था उज्जैन वेस्ट मेनेजमेंट एवं ग्लोबल वेस्ट मेनेजमेंट को रेगपिकर्स को रखने और उन्हें सपोर्ट करने हेतु निर्देश दिये गए। कबाडियों को दुकान के सामने कचरा नहीं करने के निर्देश दिये गए एवं शहर को साफ सुथरा रखने में सहयोग की अपील की गई। डस्टबीन फ्री शहर को डस्टबीन फ्री बनाया जा रहा है। अर्थात धीरे-धीरे कम्यूनिटी बीन हटाये जा रहे है तथा कचरा अब ग्लोबल की गाड़ियों में ही लिया जायेगा। कचरा अन्यत्र फैकने पर संबंधित के विरूद्ध चालानी कार्यवाही भी की जावेगी। ग्लोबल की कचरा गाड़ी नहीं आती है, तो ग्लोबल कम्पनी के हेल्प लाई नम्बर 18001230400 एवं नगर निगम कंट्रोल रूम पर 0734-2535244 पर नागरिक शिकायत दर्ज करा सकेंगे। बैठक में 35 से अधिक कबाड़ा व्यवसाई सहित निगम के स्वास्थ्य दारोगा, मेट, स्वास्थ्य निरीक्षक, डिवाईन एवं ग्लोबल बेस्ट सहित मेनेजमेंट के पदाधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

newsimage

Photo

newsimage