01-2021





  1. नववर्ष में पूरे जोश एवं ऊर्जा के साथ लीडरशीप में कार्य करते हुए शहर की स्वच्छता को नये आयाम तक पंहुचाना है - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल

    Not Found उज्जैन: साल 2020 बच्चो से लेकर बड़ो तक के मन और दिमाग में कोरोना संक्रमण की छाप छोडकर गया है जिसके कारण किसी न किसी तरह से शहरवासी प्रभावित हुए है। संक्रमण काल जैसी विषम परिस्थिति में नगर निगम का सम्पूर्ण अमला लाक डाउन में भी अपनी पूरी तत्परता के साथ जुटा रहा। लाकडाउन के दौरान सफाई से लेकर अन्य सभी आवश्यक व्यवस्थाओं में नागरिको की जरूरत की सामग्री फल, सब्जी, राशन, दुध आदि वस्तुओ की घर-घर तक पहुंचाने की व्यवस्था की गई जिसके फलस्वरूप शहरवासियों को किसी प्रकार की समस्या नही आने पाई। नगर निगम का अमला अपने सभी दिये गये दायित्वों मे शत-प्रतिशत् सफल रहा। कोविड काल के दौरान संक्रमण वाले क्षेत्रो में सफाई व्यवस्था पर भी विशेष ध्यान दिया गया, घरो से पृथक रूप से कचरा एकत्रित किया जाकर नियमित रूप से सेनेटाईजर का छिड़काव भी किया गया। लाक डाउन का पालन करते हुए “कोई भी अपने घरो से अनावश्यक बाहर न निकले, आपकी सभी जरूरतो का सामान निगम आपके घर तक पहुंचाएगा” मुनादी करवाई गई। छोटी बस्तियों मे सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से घर-घर तक भोजन वितरण किया गया। शहर में विचरण कर रहे पशुओं का भी विशेष ध्यान रखते हुए पृथक से पशु आहार वाहन को संचालित करते हुए चर, घास एवं बिस्किट की व्यवस्था भी की गई। कुल मिला कर निगम ने अपनी सभी जिम्मेदारियों का बखूबी तत्परता से पालन किया। वर्तमान परिस्थिती में शासन एवं प्रशासन की गाईड लाईन का पालन करते हुए फिर से सभी अपनी रोजमर्रा गतिविधियों में जुट गये है निगम ने भी अपनी सभी गतिविधियों का संचालन प्रारंभ कर दिया है। शहर की सफाई व्यवस्था को एक नये आयाम पर पहंुचाने हेतु निगम अमला पुनः अपनी जिम्मेदारियों को निभाते हुए स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के परीक्षा की घड़ी में शामिल हो गया है। नगर निगम आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा नियमित रूप से सफाई अमले एवं स्वच्छ सर्वेक्षण में नियुक्त किये गये वार्ड नोडल अधिकारीयों का मार्गदर्शन किया जा रहा है। स्वयं वार्डो में नियमित रूप से भ्रमण करते हुए जहां ओर सफाई व्यवस्था बेहतर करने की आवश्यकता होती है उसे संज्ञान में लेते हुए सुधार किये जाने हेतु निर्देशित किया जा रहा है। इसी क्रम में गुरूवार को आयुक्त द्वारा ग्राण्ड होटल पर वार्ड नोडल अधिकारीयों, सफाई अमले एवं अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि नववर्ष में हम सभी को पूर्ण ऊर्जा, उमंग एवं समन्वय के साथ मिलकर कार्य करना है। आपने कहा कि हमें स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 की परीक्षा में अपने शहर का नाम सर्वोच्च शिखर तक पहुंचा सके। हमे ऐसी कोई कमी नहीं रखना है जिससे सर्वेक्षण में कम अंक प्राप्त हो। सफाई व्यवस्था, शौचालयों की सफाई, नदी/तालाब, कुंए, बावडियों की सफाई, उद्यानो का रख रखाव हो या पथ प्रकाश व्यवस्था का संधारण हमे सभी कार्याे की शत-प्रतिशत रूप से सुनिश्चित करना है, जिससे हमे सभी कार्यो में पूर्ण अंक प्राप्त हो सके। शहर में जन-जागरूकता अभियान चलाया जाकर नागरिकों को सफाई के लिये प्रेरित करंे, अमानक स्तर की पाॅलिथिन का उपयोग करने वालों पर सतत चालानी कार्यवाही करें, घर से निकलने वाले कचरे को पृथक-पृथक बिन में संग्रहित करें, कचरा खुले में ना फैकने, अपने आस-पास सफाई रखे, खुले में शौच एवं पैशाब न करें इसकी समझाईश दी जाए। शहरवासियों की जागरूकता से ही हम स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में सफल होंगे।








  2. आयुक्त ने किया सफाई व्यवस्था का निरीक्षण

    Not Found उज्जैन: गुरूवार को आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा तोपखाना, महाकाल क्षेत्र, गुदरी चैराहा, बेगमबाग, महाराजवाड़ा आदि क्षेत्रो का निरीक्षण किया गया। महाकाल क्षेत्र की सफाई व्यवस्था के दौरान सफाई कर्मचारियों को निर्देशित किया कि उक्त क्षेत्र धार्मिक होने से प्रतिदिन यहां पर काफी संख्या में श्रृद्धालुजन आते है साथ ही नववर्ष को ध्यान में रखते हुए भी बड़ी तादात में श्रृद्धालुजन आएंगे, इसीलिए नियमित रूप से सफाई करवाई जाकर प्रातःकालीन सफाई से एकत्रित होने वाली कचरे की ढेरियो को तत्काल उठवाया जाए जिससे क्षेत्र साफ एवं स्वच्छ रहे। क्षेत्र के मेट को भी निर्देशित किया कि दुकानदारो को भी समझाईश दे की अपनी दुकानो के बाहर दो डस्टबिन रखते हुए साफ सफाई रखे एवं दुकान पर आने वाले लोगों से भी कचरा डस्टबिन में डालने की अपिल करें। महाराजवाड़ा क्रमांक 02 परिसर के बाहर गंदगी एवं कचरे का ढेर लगा होने पर संबंधित वार्ड के मेट को निर्देश दिये की तत्काल सफाई करवाई जाकर यहां पर कचरे को ढेर न लगने दिया जाए। निरीक्षण के दौरान अपर आयुक्त श्री मनोज पाठक, जनसंपर्क अधिकारी श्री प्रदीप सेन उपस्थित रहे।








  3. सम्पत्तिकर एवं जलकर के सरचार्ज में दी जा रही विशेष छूट के अन्तिम दिन

    Not Found 01 करोड से अधिक का सम्पत्तिकर एवं 8.00 लाख का जलकर प्राप्त हुआ आयुक्त ने किया झोन कार्यालयों का निरीक्षण उज्जैन: शासन निर्देशानुसार नगर निगम द्वारा बकाया सम्पत्तिकर एवं जलकर जमा कराने पर लगने वाले सरचार्ज में विगत तीन माह से विशेष छूट प्रदान की जा रही थी जिसका आज अंतिम दिवस होने से आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा झोन क्रमांक 02, 04, 05 एवं 06 का निरीक्षण कर झोन में उपस्थित नागरिकांे से चर्चा की। आपने सम्बंधित झोन के सहायक सम्पत्तिकर अधिकारियों को निर्देशित किया कि झोन में आने वाले करदाताओं को किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो इस बात का पूर्ण ध्यान रखा जावे। सम्पत्तिकर एवं जलकर वसूली अन्तर्गत दी जा रही विशेष छूट के अन्तिम दिवस सायं 7.00 बजे तक राशि रूपये 1,06,67,648/- का सम्पत्तिकर एवं 08.00 लाख से अधिक का जलकर प्राप्त किया गया। सम्पत्तिकर वसूली कार्य देर रात तक जारी रहेगा अंतिम आॅकडे पृथक से जारी किये जावेगे।








  4. नानाखेड़ा बस स्टेंड पर चल रहे स्मार्ट टाॅयलेट कम कैफे निर्माण कार्य का आयुक्त ने किया निरीक्षण

    Not Found नगर निगम द्वारा प्रमुख स्थानों पर करवाया जा रहा है स्मार्ट टॉयलेट कम कैफे का निर्माण उज्जैन: स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 में शहर को उत्कृष्ट स्थान दिलाने तथा शहर के नागरिकों, आने वाले यात्रियों की सुविधा के लिये शहर के प्रमुख स्थानो पर पब्लिक प्रायवेट पार्टनरशीप योजना (पीपीपी) के तहत स्मार्ट टॉयलेट कम कैफे का निर्माण कार्य करवाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत नानाखेड़ा बस स्टेंड परिसर के बाहर चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण शुक्रवार को आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा किया गया। उल्लेखनीय है कि इस कार्य को करने हेतु नगर निगम उज्जैन द्वारा फेशरुम हास्पिटलिटि प्रा.लि. भोपाल के साथ 10 वर्ष की अवधि के लिये अनुबंध सम्पादित किया गया है जिसके अन्तर्गत स्वच्छ वातानुकूलित शौचालय, मूत्रालय एवं स्नान की सुविधा प्राप्त हो सकेगी। योजना अन्तर्गत तैयार किये जाने वाले स्मार्ट शौचालयों में प्रतिदिन प्रातः 5 से रात्रि 10 बजे तक आम नागरिकों 10/-रुपये का टिकिट लेकर 1 बार शौचालय एवं 2 बार मूत्रालय का उपयोग कर सकेंगें साथ ही उक्त 10/- रुपये के टिकिट से 24 घंटे की अवधि में कभी भी चाय/कॉफी अथवा खाद्य सामग्री कैफे से प्राप्त कर सकते है। अर्थात शौचालय एवं मूत्रालय का उपयोग निःशुल्क हो सकेगा। स्मार्ट शौचालय पूर्णतः ऑटोमेटिक है, जिसमें शौचालयों की शीट अपने आप खुलती है और उपयोग करने के बाद अपने आप फ्लश होकर बंद हो जाती है। शौचालय पूर्णतः वातानुकुलित है। स्मार्ट शौचालय के उपयोग हेतु मोबाईल एप के माध्यम से भी मासिक पास की सुविधा भी प्रदान की जायेगी जिससे व्यवसायिक क्षेत्र के व्यापारियों को स्वच्छ शौचालय के साथ ही चाय, काफी की सुविधा प्राप्त हो सकेगी। स्मार्ट शौचालय में 1 महिला, 1 पुरुष एवं 1 दिव्यांगजन के लिये पृथक पृथक शौचालय का निर्माण किया जायेगा, स्मार्ट शौचालय को कैफे के पीछे भाग में तैयार किया जा रहा है और आगे के भाग में कैफे का निर्माण किया जायेगा जिससे शौचालय का उपयोग करने में किसी भी व्यक्ति को कोई झिझक उत्पन्न नहीं होगी। स्मार्ट कैफे में चाय काफी के अतिरिक्त पानी की बॉटल, बेकरी आयटम एवं अन्य खाद्य सामग्रियो को उच्च गुणवत्ता के साथ तैयार कर आम नागरिको को न्यूनतम दरो पर विक्रय किया जायेगा। स्मार्ट शौचालय में प्रमुख रुप से एसटीपी (सिवेज ट्रिटमेन्ट प्लांट) का प्रावधान रखा गया है जिससे शौचालय से निकलने वाले अपशिष्ठ को उपचारित किया जा सकेगा एवं शौचालयों में कभी भी दुर्गंध की स्थिति नही रहेगी। नगर पालिक निगम उज्जैन शहर के आम नागरिको, यात्रियों एवं धर्मालुओ के लिये स्वच्छ एवं स्वस्थ शौचालय की सुविधा प्रदान करने के लिये दृढ संकल्पिक होकर कार्यरत है आयुक्त श्री क्षतिज सिंघल द्वारा आम नागरिको को स्मार्ट टॉयलेट कम कैफे की सुविधा प्रदान करने हेतु संबंधित एजेन्सी को तीव्रगति से कार्य करने के निर्देश दिये गये है। निरीक्षण के दौरान नानाखेड़ बस स्टेण्ड चैराहे पर लगे लीटर बिन को समय से खाली नही किये जाने तथा खाली करने के पश्चात् लाॅक नही लगाये जाने पर ग्लोबल कम्पनी के सुपर वाईजर को फटकार लगाई एवं कहा की यदि लीटर बिन बिना सफाई, लाॅक के पाए जाने पर चालानी कार्यवाही की जावेगी। निरीक्षण के दौरान अपर आयुक्त श्री मनोज पाठक, कार्यपालन यंत्री श्री राम बाबू शर्मा, श्री अरूण जैन, झोनल अधिकारी श्री पी. सी.यादव, जनसंपर्क अधिकारी श्री प्रदीप सेन उपस्थित रहे।








  5. शहर के विभिन्न उद्यानों में नागरिक करा सकेंगे प्री वेडिंग शूट - प्रशासक आनन्द कुमार शर्मा

    Not Found उज्जैन: नगर निगम द्वारा शहर में पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एवं शहर के नागरिको के लिये अपने शहर में ही पिकनिंक, किटी पार्टी, बर्थडे पार्टी, प्री वेडिंग शूटिंग एवं अन्य आयोजनो हेतु सःशुल्क स्थान उपलब्ध कराए जाने के लिये शहर के 14 उद्यानों को चिन्हित किया गया है। इन उद्यानों में उपरोक्त आयोजन किये जाने हेतु शहर के अथवा बाहर के नागरिको को प्रोत्साहित किये जाने हेतु एजेंसियों का चयन किये जाने हेतु आयुक्त द्वारा निविदा आमंत्रित किये जाने संबंधी प्रस्ताव तैयार किया गया है जिसे संभाग आयुक्त/प्रशासक श्री आनन्द कुमार शर्मा द्वारा स्वीकृति प्रदान की गई है। प्रशासक आनन्द कुमार शर्मा ने कहा कि उज्जैन शहर पौराणिक एवं धार्मिक शहर है यहां प्रतिदिन हजारो की संख्या में श्रृद्धालु दर्शन एवं मनोरंजन के उद्देश्य से आते है। शहर में पर्यटन एवं व्यवसायिक गतिविधियों को ब़ढ़ावा देने के उद्देश्य से नगर निगम द्वारा शहर के 14 उद्यानो का चयन पिकनिंक, किटी पार्टी, बर्थडे पार्टी, प्री वेडिंग शूटिंग एवं अन्य आयोजन सःशुल्क किये जाने हेतु ऐजेंसी नियुक्त की जायेंगी। आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल ने कहा कि हमारा प्रयास है कि शहर में पर्यटन एवं व्यवसायिक गतिविधियों को अधिक से अधिक बढ़ाया जा सके इस हेतु निगम द्वारा पिकनिंक, किटी पार्टी, बर्थडे पार्टी, प्री वेडींग शुटिंग एवं अन्य आयोजनो हेतु शहर के 14 उद्यानो का चयन किया गया है। इन उद्यानो में निविदा प्रक्रिया का तहत चयनित ऐजेंसी द्वारा शहर के तथा बाहर के नागरिकों को पिकनिंक, किटी पार्टी, बर्थडे पार्टी, प्री वेडिंग शूटिंग एवं अन्य आयोजन सःशुल्क किये जाने हेतु प्रेरित किया जाकर कार्यक्रम आयोजित करेंगी। जिससे निगम आय में वृद्धि होगी साथ ही शहर में व्यवसायिक गतिविधियों को बढ़ावा प्राप्त होगा। उल्लेखनीय है कि नगर निगम द्वारा कालिदास उद्यान, पुरूषोत्तस सागर, विष्णु सागर, नृसिंह घाट, गांधी उद्यान, नेहरू पार्क, यातायात पार्क, बालोद्यान, अटल अनुभूति, प्रियदर्शनी उद्यान, वसंत बिहार उद्यान, सुभाष नगर तालाब पार्क, लोकमान्य तिलक उद्यान, श्री राजीव गांधी उपवन उद्यानो का चयन पिकनिंक, किटी पार्टी, बर्थडे पार्टी, प्री वेडिंग शूटिंग एवं अन्य आयोजनो हेतु किया जाकर शुल्क निर्धारित किया गया है। उक्त निर्धारित शुल्क अनुसार चयनित होने वाली ऐजेंसी कार्यक्रमो की बुकिंग करेंगी।








  6. मा. मुख्यमंत्री के आगमन पर निगम द्वारा की गई व्यवस्थाओं का आयुक्त ने किया निरीक्षण

    Not Found उज्जैन: आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा मंगलवार को मा. मुख्यमंत्री के नगर मे आगमन को दृष्टिगत रखते हुए निगम द्वारा की जाने वाली व्यवस्थाओं का जायजा लिया गया। आयुक्त द्वारा देवास रोड, सर्किट हाउस, दताना मताना हवाई पट्टी, कालीदास अकादमी, नागझीरी, महाकाल क्षेत्र, ऋषि नगर क्षेत्र की सफाई व्यवस्था का निरीक्षण करते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि इन क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था, आवश्यकतानुसार रोड पेचवर्क कार्य, ब्लीचिंग पाउडर का छिडकाव तथा चलित शौचालयों की व्यवस्था की जाए साथ ही पशु गैंग अमला सतत् निगरानी करे। निरीक्षण के दौरान अपर आयुक्त श्री मनोज पाठक, उपायुक्त श्री संजेष गुप्ता, जनसंपर्क अधिकारी श्री प्रदीप सेन उपस्थित रहे।