11-2020





  1. आयुक्त ने किया वार्ड क्रमांक 19 में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण

    Not Found उज्जैन: सोमवार को आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा वार्ड क्रमांक 19 अंतर्गत मेट्रो टॉकीज की गली, फाजलपुरा, बाबा प्लास्टिक की गली, मिल्कीपुरा, बियाबानी चैराहा आदि क्षेत्रों में भ्रमण करते हुए संपूर्ण क्षेत्र की सफाई व्यवस्था का निरिक्षण किया गया। वार्ड में कार्यरत सफाई कर्मचारियों द्वारा जैकेट नही पहनकर कार्य किये जाने पर संबंधित मेट को निर्देशित किया कि जो सफाई कर्मचारी जैकेट पहनकर कार्य नहीं करते हैं उनकी अनुपस्थिति लगाई जाकर वेतन काटने हेतु अनुसंशित करें। निरीक्षण के दौरान नालियों में गदंगी तथा कचरा सड़क पर पाए जाने पर आयुक्त द्वारा संबंधित वार्ड नोडल अधिकारी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि आप को नोडल इसलिए नियुक्त किया गया है कि वार्डो की सफाई व्यवस्था सुचारू रूप से बनी रहे। वार्डों में नियमित सफाई हो रही है या नहीं यह दायित्व आपका है। कुछ क्षैत्रों में खुले में कचरा पड़ा हुआ पाए जाने पर आयुक्त ने कहा कि जो लोग समझाइश के बाद भी खुले में कचरा फेंक रहे हैं उन पर निरंतर चालानी कार्यवाही की जाए, साथ ही रहवासियों को भी समझाइश दें कि अपने घरों से निकलने वाले कचरे को दो पृथक-पृथक डस्टबिन में ही रखें खुले में कचरा फेंकने से गंदगी फैलती है साथ ही हमारे शहर की छवि भी धूमिल होगी इसीलिए घरों से निकलने वाले कचरे को कलेक्शन वाहनों में ही दिया जाए। फाजलपुरा क्षेत्र में सार्वजनिक शौचालय का निरीक्षण करते हुए शौचालय की पर्याप्त साफ-सफाई एवं पानी की व्यवस्था निरंतर रखी जाने हेतु वार्ड के मेट को निर्देशित किया गया। निरीक्षण के दौरान अपर आयुक्त श्री आर.पी. मिश्रा, जनसंपर्क अधिकारी श्री प्रदीप सेन, स्वास्थ्य निरीक्षक श्री पुरुषोत्तम दुबे उपस्थित रहे।








  2. कचरा कलेक्शन वाहनों में गौग्रास हेतु पृथक से व्यवस्था निर्धारित

    Not Found उज्जैन: नगर निगम द्वारा संचालित कचरा कलेक्शन वाहनों में गौग्रास हेतु अब पृथक से एक बाक्स लगवाया जा रहा है जिसमें रहवासी गाय को दी जाने वाली रोटी डाल सकेंगे। प्रायः यह देखने में आता है कि घरों से गायों को दी जाने वाली रोटी को इधर-उधर खुले में ही रख दि जाती है, इसी बात को ध्यान में रखते हुए निगम द्वारा अब कचरा कलेक्शन वाहनों में ही गौग्रास डाले जाने हेतु बाक्स लगवाए जा रहे है। बाक्स से प्राप्त गौग्रास को निगम द्वारा संचालित रत्नाखेडी स्थित कपिला गौशाला पहुंचाया जाकर गायों को खिलाया जाएगा।








  3. नगर निगम के लिए आय का प्रमुख साधन कर की वसूली करना है -

    Not Found समाचार 04.11.2020 प्रशासक श्री आंनद कुमार शर्मा उज्जैनः संभागायुक्त एवं निगम प्रशासक श्री आनंद कुमार शर्मा द्वारा बुधवार को निगम कार्यालय पहुंच कर नगर निगम सम्पत्तिकर विभाग की समीक्षा की गई। प्रशासक श्री आनंद कुमार शर्मा ने कहा कि नगर निगम नागरिकांे की सुविधाओं को ध्यान में रख कर कार्य करता है उनकी सुविधाओं हेतु सड़क एवं नाली निर्माण सहित शहरी की सौन्दर्यता एवं विकास का पूर्ण दायित्व निगम का होता है। उक्त दायित्वों को पूर्ण करते हुए निगम के लिए आय का प्रमुख साधन कर की वसूली करना है। इस लिए आवश्यक है कि हम प्रयास करें कि ज्यादा से ज्यादा सम्पत्तिकर वसूल किया जा सके। इस हेतु नई सम्पत्तियों को रिकार्ड में जोड़े जाने की कार्यवाही शीघ्र पूर्ण की जाए, करदाताओं को एसएमएस के माध्यम से सम्पत्तिकर की जानकारी प्रेषित की जाए, शासन निर्देशानुसार 31 दिसम्बर तक बकाया सम्पत्तिकर जमा कराने पर विशेष छूट प्रदान की जा रही है इसका प्रचार प्रसार किया जाकर सम्पत्तिकरदाताओं को बकाया कर जमा कराने हेतु प्रेरित किया जाए, पीओएस मशीन के द्वारा घर-घर पहुंचकर सम्पत्तिकर वसूली का कार्य किया जाए जिससे करदाता को झोन कार्यालय न जाना पडे़। बैठक में आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा सम्पत्तिकर वसूली कार्य हेतु निगम द्वारा की जा रही कार्यवाहियों से अवगत कराते हुए बताया गया कि सम्पत्तिकर में वसूली हेतु व्यापक स्तर पर कर दाताओं को बिल जारी किये जाकर उनकी तामिली करवाई गई है। जिन भवन स्वामी द्वारा बिल जारी होने के उपरांत भी कर नहीं भरा जाता है उनके विरूद्ध कुर्की की कार्यवाही की जा रही है। इसी के साथ एसएमएस के माध्यम से भी नागरिकों को सम्पत्तिकर की सूचना भेजी जा रही है। बैठक में अपर आयुक्त श्री आर.पी. मिश्रा, उपायुक्त श्रीमती कल्याणी पाण्डे, सहायक आयुक्त श्री तेजकरण गुनावदिया, जनसम्पर्क अधिकारी श्री प्रदीप सेन सहित समस्त सहायक सम्पत्तिकर अधिकारी उपस्थित रहे।








  4. नगर निगम 5 स्थानों पर करेगा स्मार्ट टॉयलेट कम कैफे का निर्माण

    Not Found उज्जैन: स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 में शहर को उत्कृष्ट स्थान दिलाने तथा शहर के नागरिकों, महाकालेश्वर मंदिर में आने वाले दर्शनार्थी, यात्रीयों की सुविधा के लिये आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा शहर के प्रमुख 5 स्थानो पर पब्लिक प्रायवेट पार्टनरशीप योजना (पीपीपी) के तहत स्मार्ट टॉयलेट कम कैफे का निर्माण कार्य करवाया जा रहा है। इस कार्य को करने हेतु नगर निगम उज्जैन द्वारा फेशरुम हास्पिटलिटि प्रा.लि. भोपाल के साथ 10 वर्ष की अवधि के लिये अनुबंध सम्पादित किया गया है जिसके अन्तर्गत स्वच्छ वातानुकुलित शौचालय, मूत्रालय एवं स्नान की सुविधा प्राप्त हो सकेगी। योजना अन्तर्गत तैयार किये जाने वाले स्मार्ट शौचालयों में प्रति दिन प्रातः 5 से रात्रि 10 बजे तक आम नागरिकों 10/-रुपये का टिकट लेकर कर 1 बार शौचालय एवं 2 बार मूत्रालय का उपयोग कर सकेंगें साथ ही उक्त 10/- रुपये के टिकट से 24 घंटे की अवधि में कभी भी चाय/कॉफी अथवा खाद्य सामग्री कैफे से प्राप्त कर सकते है। अर्थात शौचालय एवं मूत्रालय का उपयोग निःशुल्क हो सकेगा। स्मार्ट शौचालय पूर्णतः ऑटोमेटिक है, जिसमें शौचालयों की शीट अपने आप खुलती है और उपयोग करने के बाद आपने आप फ्लश होकर बंद हो जाती है। शौचालय पूर्णतः वातानुकुलित है। स्मार्ट शौचालय के उपयोग हेतु मोबाईल एप के माध्यम से भी मासिक पास की सुविधा भी प्रदान की जायेगी जिससे व्यवसायिक क्षेत्र के व्यापारियों को स्वच्छ शौचालय के साथ ही चाय, काफी की सुविधा प्राप्त हो सकेगी । स्मार्ट शौचालय में 1 महिला, 1 पुरुष एवं 1 दिव्यांगजन के लिये पृथक पृथक शौचालय का निर्माण किया जायेगा, स्मार्ट शौचालय को कैफे के पीछे भाग में तैयार किया जा रहा है और आगे के भाग में कैफे का निर्माण किया जायेगा जिससे शौचालय का उपयोग करने में किसी भी व्यक्ति को कोई झिझक उत्पन्न नहीं होगी। स्मार्ट कैफे में चाय काफी के अतिरिक्त पानी की बॉटल, बेकरी आयटम एवं अन्य खाद्य सामग्रीयो को उच्च गुणवत्ता के साथ तैयार कर आम नागरिको को न्यूनतम दरो पर विक्रय किया जायेगा। स्मार्ट शौचालय में प्रमुख रुप से एसटीपी (सिवेज ट्रिटमेन्ट प्लांट) का प्रावधान रखा गया है जिससे शौचालय से निकलने वाले अपशिष्ठ को उपचारित किया जा सकेगा एवं शौचालयों में कभी भी दुर्गंध की स्थिति नही रहेगी। स्मार्ट शौचालय कम कैफे के लिये निम्नानुसार स्थलो का निर्धारण किया गया है - 01. कॉसमास मॉल के बाहर 02. नानाखेडा बस स्टेण्ड परिसर 03. चारधाम मंदिर पार्किंग 04. अपना स्वीट्स के सामने देवास रोड 05. फीगंज क्षेत्र नगर पालिक निगम उज्जैन शहर के आम नागरिको, यात्रियों एवं धर्मालुओ के लिये स्वच्छ एवं स्वस्थ शौचालय की सुविधा प्रदान करने के लिये दृढ संकल्पिक होकर कार्यरत है आयुक्त श्री क्षतिज सिंघल द्वारा 31 दिसम्बर 2020 तक आम नागरिको को स्मार्ट टॉयलेट कम कैफे की सुविधा प्रदान करने हेतु संबंधित एजेन्सी को तीव्र गती से कार्य करने के निर्देश दिये गये है








  5. त्यौहारों को ध्यान में रख व्यवसायिक क्षैत्रों में की जा रही है विशेष सफाई व्यवस्था

    Not Found उज्जैन: आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल के निर्देशानुसार निगम स्वास्थ्य अमला अपनी पूर्ण क्षमता के साथ सफाई कार्य में जुटा हुआ है। स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 की जारी गाईड लाईन अनुसार निगम अमले द्वारा शहर को उत्कृष्ट स्थान दिलाने हेतु प्रत्येक स्तर पर कार्य किया जा रहा है। जिसके अन्तर्गत अमले द्वारा निरंतर गंदगी पर चालानी कार्यवाही, सार्वजनिक शौचालयों एवं सुलभ शौचालयों का व्यवस्थित संचालन, सड़कों एवं नालियों की सफाई, गीला एवं सुखा कचरे का पृथकीकरण, जलकर एवं सम्पत्तिकर की वसूली, नागरिकों को प्रेरित किये जाने हेतु स्वच्छता जनजागरूता गतिविधियों का आयोजन इत्यादि किया जा रहा है। निगम द्वारा दिपावली पर्व तथा अन्य त्यौहारों को दृष्टिगत रखते हुए शहर में विशेष सफाई का कार्य किया जा रहा है। शहर के प्रमुख बाजार गोपाल मंदिर, छत्रीचैक, फ्रीगंज, दौलतगंज सहित अन्य व्यवसायिक क्षैत्रों में त्यौहारों के चलते अत्यधिक भीड़ होने से सड़कों पर अधिक मात्रा में कचरा फैल रहा है जिसे ध्यान में रखते हुए सफाई कर्मचारियों द्वारा विशेष सफाई अभियान चलाया जाकर साफ किया जा रहा है। विशेष सफाई अभियान के साथ साथ ही अपनी नियमित सफाई का कार्य भी निगम द्वारा किया जा रहा है। कचरा कलेक्शन वाहनोें द्वारा निर्धारित समय अनुसार घर घर पहुंच कर कचरा एकत्र किया जा रहा है, डिवाईन वेस्ट मेनेजमंेट एवं ओम सांई विजन के कर्मचारियों द्वारा कचरा कलेक्शन वाहन से पूर्व घर घर जाकर कचरा पृथकीकरण हेतु समझाईश दी जा रही है, वार्ड नोडल अधिकारियों द्वारा नियमित रूप से सुबह एवं रात्रि में सफाई कार्य के निरीक्षण के साथ साथ उद्यानों एवं पथ प्रकाश व्यवस्था के संधारण कार्यो का निरीक्षण भी किया जा रहा है।








  6. सुदामा मार्केट के स्थान पर 8 करोड़ की लागत से बनने वाले नवीन कमर्शियल काॅम्पलेक्स के द्वितीय तल पर होगा फ्लेट्स का निर्माण

    Not Found उज्जैन: प्रशासक श्री आनंद कुमार शर्मा द्वारा विगत दिनों सुदामा मार्केट के निरीक्षण के दौरान दिये गए निर्देशानुसार निगम द्वारा सुदामा मार्केट की डीपीआर में परिवर्तन किया जाकर द्वितीय तल पर बनने वाले कम्यूनिटी हाॅल के स्थान पर फ्लेट्स का निर्माण करवाया जाएगा। इस सम्बंध में आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा प्रस्तुत प्रस्ताव को स्वीकृति भी प्राप्त हो चुकी है। उल्लेखनिय है कि नगर निगम द्वारा सुदामा मार्केट के स्थान पर लगभग 8 करोड़ की लागत से बेसमेंट, जी प्लस 2 कमर्शियल काम्पलेक्स का निर्माण कार्य किया जाना था जिसमें बेसमेंट में पार्किंग, ग्राउण्ड फ्लोर पर दुकानेें, प्रथम तल पर आफिस एवं द्वितीय तल पर कम्यूनिटी हाॅल का निर्माण किया जाना था। दिनांक 24.09.2020 को प्रशासक द्वारा निर्माण स्थल का निरीक्षण कम्यूनिटी हाॅल के स्थान पर फ्लेट्स निर्माण कार्य करवाये जाने हेतु निर्देश प्रदान किये गए थे। उक्त निर्देश के क्रम में अब इस नवीन काम्पलेक्स में कम्यूनिटी हाॅल के स्थान पर फ्लेट्स का निर्माण करवाया जाएगा। निगम द्वारा आय में वृद्धि हेतु किये जा रहे विकास कार्यो के क्रम में दुधतलाई केे पास निगम स्वामित्व की भूमि पर सुदामा मार्केट के स्थान पर लगभग राशि रूपये 8 करोड़ की लागत से नवीन शाॅपिंग काम्पलेक्स का निर्माण कार्य प्रस्तावित किया गया है।








  7. 6169.05 वर्ग मीटर क्षैत्र में आकार लेगा छत्रीचैक शाॅपिंग काॅम्पलेक्स

    Not Found उज्जैन: उज्जैन शहर का हृदय कहलाये जाने वाले छत्रीचैक क्षैत्र में स्थापित ओपन एवं क्लोज सिंधी क्लाथ मार्केट को तोड़कर पुराने व्यवसायियों को नियमानुसार विस्थापित किये जाने के साथ ही व्यवसायिक गतिविधियों को बढ़ावा दिये जाने के उद्देश्य से छत्रीचैक शाॅपिंग काम्लेक्स का निर्माण करवाया जाएगा। यह बात संभागायुक्त श्री आनंद कुमार शर्मा ने कही। आपने कहा कि छत्रीचैक एवं गोपाल मंदिर क्षैत्र शहर के हृदय के समान है और यहां पर व्यवसाय करना हर किसी का सपना होता है। इसी सपने को साकार करते हुए आयुक्त द्वारा प्रस्तावित ओपन एवं क्लोज सिंधी क्लाथ मार्केट के स्थान पर नवीन छत्रीचैक शाॅपिंग काॅपलेक्स निर्माण कार्य के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की गई। आपने कहा कि इस शापिंग काॅपलेक्स के निर्माण से शहर में व्यवसायिक गतिविधियां बढ़ने के साथ ही निगम की आय में भी वृद्धि होगी। आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल ने बताया कि छत्रीचैक एवं गोपाल मंदिर क्षैत्र शहर के मध्य स्थित होकर यहा का सबसे बड़ा व्यवसायिक क्षैत्र है, साथ ही पयर्टन की दृष्टि से भी यह क्षैत्र अत्यंत ही महत्वपूर्ण है। शहर के नागरिकों के साथ ही यहाँ पहुंचने वाले पयर्टकों तथा श्रृद्धालुओं भी इस क्षैत्र मंे शाॅपिंग करने पहुंचते है। इन्ही महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखते हुए नगर निगम द्वारा लगभग 10.55 करोड़ की लागत से 6169.05 वर्गमीटर क्षैत्र में ओपन एवं क्लोज सिंधी क्लाथ मार्केट को तोड़ कर नवीन छत्रीचैक शाॅपिंग काॅपलेक्स निर्माण करवाया जाएगा। इस शाॅपिंग काॅपलेक्स की एक विशेषता यह भी है कि यह शहर का अपने आप में सबसे बड़ा शापिंग काम्पलेक्स होगा जहां सभी नागरिक सुविधाओं के साथ ही 360 दुकानों/आॅफिस का निर्माण होगा। नवीन शापिंग काम्पलेक्स निर्माण के पश्चात यहां के पुराने व्यवसायियों को नियमानुसार विस्थापित किया जाकर शेष दुकानों को आम नागरिकों हेतु क्रय किये जाने की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। उल्लेखनिय है कि नगर निगम द्वारा लगातार प्रशासक श्री आंनद कुमार शर्मा के मार्गदर्शन में निगम की आय में वृद्धि किये जाने के साथ साथ शहर के विकास एवं व्यवसायिक गतिविधियों को आगे बढ़ाये जाने के उद्देश्य से शापिंग काम्पलेक्स का निर्माण करवाया जा रहा है। जिसके अन्तर्गत फाजलपुरा क्षैत्र फायरब्रिगेड के पीछे, दुधतलाई क्षैत्र पुराना सुदामा मार्केट के स्थान पर तथा गुरूनानक मार्केट के सामने नवीन शापिंग काम्पलेक्स का निर्माण कार्य प्रतावित किया गया है। इसी क्रम में निगम द्वारा लगभग 6169.05 वर्गमीटर क्षैत्र में ओपन एवं क्लोज सिंधी क्लाथ मार्केट को तोड़ कर लगभग 10.55 करोड़ की लागत से नवीन छत्रीचैक शाॅपिंग काॅपलेक्स निर्माण करवाया जाएगा। जिसमें बेसमेंट में पार्किंग की व्यवस्था की जाकर ग्राउण्ड फ्लोर पर 127 दुकाने, प्रथम फ्लोर पर 121 दुकाने/आॅफिस एवं द्वितीय तल पर 112 दुकाने/ आॅफिस का निर्माण किया जाएगा।








  8. विश्व शौचालय दिवस पर जन जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

    Not Found उज्जैन: गुरुवार को विश्व शौचालय दिवस के अवसर पर नगर निगम के सहयोगी संस्था डिवाइन वेस्ट मैनेजमेंट एवं ओम साईं विजन के सदस्यों द्वारा खुले में शौच एवं पेशाब ना करने हेतु जन जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। डिवाइन वेस्ट मैनेजमेंट के सदस्यों द्वारा फ्रीगंज टावर चैराहे पर रंगोली बनाकर नागरिकों को अपनी जिम्मेदारियों का अहसास करवाते हुए खुले में पेशाब और खुले में शौच ना करने के बारे में जागरूक किया गया एवं अपने शहर को पुनः खुले में शौच मुक्त शहर ओडीएफ प्लस प्लस बनाने में सहयोग प्रदान करने हेतु आग्रह किया गया। ओम साईं विजन के सदस्यों द्वारा वार्ड क्रमांक 36 जबरन कॉलोनी में शौचालय पर महिलाओं को पिंक अभियान के तहत शौचालय में लगी हुई सेनेटरी पैड मशीन का उपयोग व इंसिलेटर मशीन का उपयोग करने के बारे में बताया गया एवं घर पर उत्पन्न हानिकारक अपशिष्ट को कचरा कलेक्शन वाहनों में ही डालने की समझाइश दी गई।