Oct-2020

(1)

डिजीटल पोस मशीन द्वारा भी अब आसानी से कर वसूली की जा सकेगी - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल

Not Found

डिजीटल पोस मशीन का प्रशिक्षण सम्पन्न उज्जैन: एचडीएफसी बैंक द्वारा नगर निगम के सम्पत्ति कर, जलकर, स्पाट फाईन, बाजार वसूली हेतु डिजीटल पोस मशीन की टेªनिंग शनिवार को नगर निगम परिषद हाॅल में समस्त झोनो के कर वसूली का कार्य करने वाले निरीक्षको को दी गई। आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा प्रशिक्षण कार्य में सभी निरीक्षकों से कहा कि डिजीटल पोस मशीन एवं झोन कार्यालय के माध्यम से संपत्ति एवं जल कर की वसूली शत-प्रतिशत करना ही मुख्य लक्ष्य रखा जाए। जिन करदाताओं द्वारा बकाया ‘कर’ जमा नही किया जा रहा है उन्हे नोटिस जारी करें यदि नोटिस जारी किये जाने के बाद भी कर जमा नही किया जाए तो संम्पत्ति कुर्की की कार्यवाही करें। इस नवीन डिजीटल पोस मशीन के द्वारा करदाताओं से सुगमता पुर्वक डेबिड कार्ड, क्रेडीड कार्ड, नगद एवं चैक के माध्यम से भी कर जमा किया जा सकता है। पोस मशीन की एक मुख्य सुविधा यह भी है कि बकाया कर की भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है करदाता द्वारा कब तक का बकाया कर जमा नही किया गया है साथ ही एसएमएस के माध्यम से सूचना मिल जाएगी की आपका वर्तमान तक का कर जमा हो गया है अथवा नही, तथा अगला कर जमा करने का अर्लट भी मिल जाऐगा। प्रशिक्षण में अपर आयुक्त श्री आर.पी मिश्रा, सहायक आयुक्त श्री तेजकरण गुनावदीया, जनसंपर्क अधिकारी श्री प्रदीप सेन, एचडीएफसी ब्रांच मैनेजर श्री योगेश पाठक, क्लस्टर हैड श्री कपिल बदलानी आदि उपस्थित रहे।

(2)

सीवरेज कार्य की माॅनिटरिंग हेतु आयुक्त ने निर्धारित की व्यवस्था

Not Found

उज्जैन: अमृत मिशन योजना अन्तर्गत टाटा कम्पनी से कराए जा रहे भूमिगत सीवरेज पाईप लाईन कार्य में नागरिकों को हो रही समस्याओं, प्राप्त शिकायतों को दृष्टिगत रखते हुए आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा सीवरेज कार्य में होने वाली समस्याओं, कार्य की गुणवत्ता एवं कार्यो की माॅनिटरिंग हेतु झोनल अधिकारियों को सहायक यंत्री का दायित्व सौंपा जाकर झोनवार उपयंत्री नियुक्त किये गए है। साथ ही उपयंत्री सुश्री साधना चैधरी को अमृत मिशन योजना अन्तर्गत प्राप्त सी.एम. हेल्प लाईन के निराकरण का दायित्व सौंपा गया है। आयुक्त द्वारा जारी आदेशानुसार:- क्र. झोन क्र. सहायक यंत्री झोन उपयंत्री 01 01 श्री सुनील जैन श्री पराग अग्रवाल 02 02 श्री हर्ष जैन सुश्री साधना चैधरी 03 03 श्री डी.एस. परिहार श्री संदीप मामोलिया 04 04 श्री मनोज राजवानी श्री मुकुल मिश्रा 05 05 श्री शुभम सोनी श्री निर्झर शुक्ला 06 06 श्री पी.सी. यादव श्री राजकुमार राठौर

(3)

वार्ड क्रमांक 49 एवं 50 में सफाई कार्य का निरीक्षण किया

Not Found

उज्जैन: आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा अपने नियमित सफाई व्यवस्था के निरीक्षण के क्रम में शुक्रवार को वार्ड क्र. 49 एवं 50 की सफाई व्यवस्था का निरीक्षण करते हुए वार्ड नोडल अधिकारी को निर्देशित किया कि प्रातः कालिन सफाई व्यवस्था के निरीक्षण के साथ साथ दोपहर में 2ः00 से 5ः00 के मध्य भी अपने वार्ड में भ्रमण करते हुए कर्मचारियों की उपस्थिति तथा कार्य करने के समय की जांच करें। वार्ड के बनाए गए माइक्रो प्लान के अनुसार जो कर्मचारी सुबह सफाई के लिए आता है वह दोपहर के समय की सफाई व्यवस्था में भी उपस्थित होना चाहिए ऐसा ना हो कि कर्मचारी सुबह अपनी उपस्थिति देकर दोपहर में कार्य स्थल पर अनुपस्थित ना रहें यदि ऐसा हुआ तो कर्मचारी की अनुपस्थिति लगाई जाए। आपने कहा कि -रु39याहर की सफाई व्यवस्था में किसी भी प्रकार से कोताही नहीं बरती जाए, यदि किसी भी प्रकार से सफाई व्यवस्था में लापरवाही बरती गई तो वार्ड नोडल भी जिम्मेदारी के लिए तैयार रहें। तत्प-रु39यचात वार्ड क्रमांक 49 एवं 50 में सफाई व्यवस्था कार्य का अवलोकन करते हुए वार्ड नोडल अधिकारियों को नियमित सफाई व्यवस्था किए जाने हेतु निर्दे-िरु39यात किया साथ ही रहवासियों को कचरा पृथक पृथक करने, डस्टबिन का उपयोग करने एवं खुले क्षेत्र में कचरा ना फेंकते हुए कचरा कलेक्-रु39यान वाहनों में ही डालने की सम-हजयाइ-रु39या दी गई।

(4)

बिल्डिंग मटेरियल उठवाने हेतु व्यवस्था निर्धारित

Not Found

उज्जैन: नगर के विभिन्न क्षेत्रों में पडे़ अनुपयोगी बिल्डिंग मटेरियल, मलबे इत्यादि के विरूद्ध निगम ने अपनी कार्यवाही सख्त कर दी है। आयुक्त द्वारा इस दिशा में सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए निर्धारित शुल्क वसूलते हुए मटेरियल हटाये जाने की कार्यवाही किये जाने हेतु आदेशित किया है। नगर निगम द्वारा निर्माण एवं विध्वंस (सी.एण्ड डी. वेस्ट) से उत्पन्न होने वाले मलबे (निर्माणाधीन मलबा एवं तोड़े हुए भवनों का अनुपयोगी मलबा) के निपटान हेतु निर्धारित शुल्क अनुसार प्रति (डम्पर), प्रति ट्रीप राशि रूपये 1665/- अथवा प्रति ट्राली राशि रूपये 833/- व्यय निर्धारित किया जाकर निगम द्वारा निर्धारित स्थल एमआर 05 ट्रांसफर स्टेशन एवं झोन क्र. 04 एवं 06 में नानाखेड़ा स्टेडियम सी-21 माॅल के पिछे बने “अस्थाई डम्पिंग यार्ड” में डाले जावेंगे। साथ ही किसी व्यक्ति/संस्था का बिना किसी कारण/कार्य के अगर अनुपयोगी मलबा रोड़ पर पाया जाता है, तो प्रति ट्रीप राशि रूपये 1000/- के मान से सम्बंधित पर पेनेल्टी (स्पाट फाईन) वसूल की जावेगी। इस सम्बंध में निर्माणाधीन मलबा एवं तोड़े हुए भवनों का अनुपयोगी मलबा के निपटान हेतु नगर पालिक निगम उज्जैन के कंट्रोल रूम के दूरभाष नम्बर 0734-2535244 पर सूचना दी जा सकती है।

(5)

स्वास्थ्य उपायुक्त द्वारा सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया गया

Not Found

उज्जैन: स्वास्थ्य उपायुक्त श्री संजेश गुप्ता द्वारा वार्ड क्रमांक 52 अंतर्गत सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया, क्षेत्र में खुले प्लॉटों पर आसपास के रहवासी द्वारा कचरा फेंका जाता है जिससे क्षेत्र में गंदगी होती है आपके द्वारा वार्ड के दरोगा को निर्देशित किया कि जिन लोगों द्वारा खुले प्लाटों में कचरा फेंका जाता है उनकी सूची बनाकर कंट्रोल रूम में दी जाए, साथ ही उन्हें समझाइश दी जाए की अपने घरों से निकलने वाला कचरा कलेक्शन वाहनों में ही डाला जाए इधर-उधर खुले क्षेत्रों में फेंकते हुए गंदगी ना करें यदि फिर भी समझाईश के बाद नहीं माने तो संबंधित के विरुद्ध चालानी कार्यवाही की जाए। आयुक्त महोदय द्वारा स्टैंडअप मीटिंग में दिए गए निर्देशों के क्रम में क्षेत्र की नालियों की सफाई करवाई गई साथ ही आई.ई.सी. टीम के सदस्यों द्वारा डोर टू डोर पहुंचकर रहवासियों को दो अलग-अलग बीनों में कचरा रखने हेतु जागृत किया गया। इस दौरान वार्ड के नोडल अधिकारी एवं सहायक आयुक्त श्री सुबोध जैन, जनसंपर्क अधिकारी प्रदीप सेन, वार्ड के दरोगा एवं ग्लोबल कंपनी के सुपरवाइजर उपस्थित रहे।

(6)

आयुक्त द्वारा स्टैंडअप मीटिंग में वार्ड नोडल अधिकारियों को बेहतर सफाई व्यवस्था बनाए रखने हेतु निर्देशित किया

Not Found

उज्जैन: शहर की सफाई व्यवस्था कार्य में नियुक्त वार्ड नोडल अधिकारियों को आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा निर्देशित करते हुए मार्गदर्शन किया कि - ऽ शहर के प्रमुख चैराहों एवं वार्डों में जीवीपी पॉइंट्स को चिन्हित करते हुए सुचीबद्ध किया जाए साथ ही जीवीपी पॉइंट के बनने के कारणों का भी पता लगाएं। ऽ वार्ड नोडल अधिकारी अपने अपने क्षेत्रों में भ्रमण करते हुए ऐसे जीवीपी पॉइंट्स को ट्रेस करेंगे जिनकी वर्तमान में क्या स्थिति है, आसपास के लोगों द्वारा वहां कचरा तो नहीं फेंका जाता है। ऽ यदि वार्डों में कचरा गाड़ी नहीं आ रही है या जल्दी आ जाती है जिसके कारण रहवासी कचरा नहीं दे पाते हैं तो जिन लोगों द्वारा खुले में कचरा फेंका जा रहा है इसकी सूची बनाई जाए। ऽ कचरा गाड़ियों का समय निर्धारण रूट चार्ट के अनुसार किया जाकर वार्डो से कचरा कलेक्शन किया जाए जिससे रहवासियों द्वारा समय से कचरा दिया जा सके। ऽ प्रायः वार्डों में निरीक्षण के दौरान देखा गया कि कई जगह नालीयां चैक हैं समय पर सफाई नहीं हो रही है जिसके कारण पानी की निकासी नहीं होती है प्राथमिकता से नालियों की सफाई नियमित करवाई जाए। ऽ आई.ई.सी टीम के कर्मचारी कचरा गाड़ी आने से पूर्व डोर टू डोर जाकर कचरा पृथक करवाएंगे कुछ लोगों द्वारा थैलियों की पोटलिया बनाकर मिक्स कचरा दिया जाता है उन्हें समझाइश दे कि कचरा अलग अलग दिया जाए। ऽ वार्डों में जन जागरूकता कार्यक्रम नियमित करवाएं जाकर नागरिकों को स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 की गाइडलाइन एवं पूछे जाने वाले 7 सवालों की जानकारी दी जाए जिससे सही फीडबैक हमारे शहर को मिले।

(7)

निरंतर जारी है आवारा कुत्तों की नसबंदी का कार्य

Not Found

उज्जैन: माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जारी आदेश के अनुसार आवारा कुत्तो को पकड़कर रखना या उसे क्षति पहुंचाना दण्डनीय अपराध होने से आवारा कुत्तों को डाॅग रूल्स 2001 के नियम के तहत पकड़ा जाकर उनकी नसबंदी किये जाने उपरांत उन्हें वापस उसी स्थान पर छोड़ा जाता है जहां से उन्हें पकड़ा गया था। उक्त आदेश के परिपालन में नगर निगम द्वारा शहर में बढ़ती आवारा कुत्तों की सख्ंया के नियत्रंण हेतु ऐनिमल बर्थ कंट्रोल प्रोग्राम अतर्गत श्वानों के नसबंदी आॅपरेशन का कार्य प्रचलित है। नगर निगम द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान अन्तर्गत गुरूवार को 14 कुत्तो की नसबंदी की गई, इसप्रकार अभियान से अब तक कुल 7400 आवारा कुत्तों की नसबंदी की जाकर उन्हें उनके स्थानों पर छोड़ा जा चुका है। अतः नगर पालिक निगम उज्जैन द्वारा आमजन से अपेक्षा की जाती है कि, माननीय सर्वोच्च न्यायालय, एवं ऐनिमल वेल्फेयर बोर्ड की गाईड लाईन अनुसार आवारा कुत्तों की बढती संख्या के लिये नगर निगम उज्जैन द्वारा चलाये जा रहे कुत्ता नसबंदी अभियान में आवश्यक सहयोग करें।

(8)

ठेला गाड़ियों में पार्टीशन करते हुए छोटी एवं सकरी गलियों से गीला एवं सुखा कचरा अलग अलग संग्रहित करें - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल

Not Found

उज्जैन: आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा निरंतर शहर के वार्डो में भ्रमण करते हुए सफाई कार्य संबंधित गतिविधियों की जानकारी ली जा रही है, जहां सफाई व्यवस्था में सुधार करने की आवश्यकता है वहां मार्गदर्शन भी किया जा रहा है कि किस तरह से सफाई व्यवस्था को ओर बेहतर किया जा सके। इसी क्रम में गुरुवार को वार्ड क्रमांक 3 अंतर्गत मकोडिया आम नाका, यादव नगर, मंगल कॉलोनी, न्यू इंदिरा नगर, झुग्गी बस्ती क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण कर क्षेत्र के रहवासियों से कचरा प्रबंधन की जानकारी प्राप्त की गई। वार्ड में भ्रमण करते हुए देखा गया कि क्षेत्र में छोटी एवं सकरी गलियां अधिक है जहां पर कचरा कलेक्शन के लिए गाड़ियां नहीं पहुंच पाती है ऐसे क्षेत्र में ठेला गाड़ी में दो पार्टीशन करते हुए गीला एवं सूखा कचरा एकत्रित करें क्षेत्र में खुले प्लाटों पर कुछ लोगों द्वारा कचरा जलाते हुए पाए जाने पर आयुक्त द्वारा उनको समझाइश दी गई कि खुले में कचरा नहीं जलाया जाए, कचरा कलेक्शन वाहनों में ही डालें खुले मे कचरा जलाने से क्षेत्र में गंदगी भी होती है साथ ही धुएं के कारण पर्यावरण भी प्रदूषित होता है, इसीलिए अपने आसपास के क्षेत्र को साफ एवं स्वच्छ रखने के साथ-साथ हमें हमारे पर्यावरण को भी स्वच्छ बनाए रखना है। निरीक्षण के दौरान अपर आयुक्त श्री आर.पी. मिश्रा, उपायुक्त श्री संजेश गुप्ता, जनसंपर्क अधिकारी श्री प्रदीप सेन, वार्ड नोडल श्री गोपाल बोयत उपस्थित रहे।