Jun-2020

(1)

उद्यान संधारण की ओर विशेष ध्यान दें - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल

Not Found

उज्जैन - हमारे शहर में बड़ी संख्या में उद्यान हैं जिनमें से अधिकांश अच्छी स्थिति में हैं। निगम द्वारा इनका संधारण भी किया जा रहा, किन्तु आवश्यकता इस बात की है कि इनका नियमित और सुव्यवस्थित संधारण किया जाए। यह निर्देश आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल ने दिए हैं। आपने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे नियमित रूप से अपने प्रभार क्षेत्र के उद्यानों का निरीक्षण करें और उद्यानों के अपेक्षित संधारण, कांट छांट, पौधों को पानी दिया जाना, अपेक्षित साफ सफाई इत्यादि का विशेष खयाल रखें। रोटरी, डिवाइडर तथा विभिन्न चैराहों, रोड किनारे लगाए गए पौधों का संधारण और ट्रिमिंग कार्य भी नियमित रूप से किया जाए। जिन उद्यानों और रोटरी डिवाइडर इत्यादि में जिन कर्मचारियों को तैनात किया गया है उनकी नियमित उपस्थिति सुनिश्चित करते हुए कार्यों पर नजर रखी जाए। उद्यानों में लगे खेल कूद उपकरणों, व्यायाम उपकरणों, कुर्सियों, डस्टबिन इत्यादि को चेक करें, टूट फूट या किसी भी प्रकार की खराबी होने की स्थिति में दुरुस्ती की कार्यवाही करें। उद्यानों की साफ सफाई और स्वच्छता को भी अपनी प्राथमिकता में रखें। लाईटिंग, फव्वारे इत्यादि भी चेक करें। उद्यान संधारण से संबधित निविदा इत्यादि की कार्यवाही शेष हो तो उसे तत्काल पूर्ण कराएं तथा नवीन पौधा रोपण प्रस्तावित हो तो उस पर कार्यवाही आगे बढ़ाएं। याद रखें शहर की स्वच्छता और सौंदर्यीकरण में उद्यान संधारण की महत्वपूर्ण भूमिका है, लिहाजा सम्बंधित अधिकारी इस ओर विशेष ध्यान दें।

(2)

रियायतों से लाभांवित हों मगर शर्तों के साथ

Not Found

रियायतों में ला परवाही उचित नहीं - कलेक्टर श्री आशीष सिंह उज्जैन: लॉक डाउन अब रफ्ता रफ्ता अन लॉक में परिवर्तित हो रहा है। योजनाबद्ध ढंग से सामाजिक और व्यावसायिक जीवन को सामान्य करने के प्रयास किए जा रहे हैं। इस दौरान नागरिकों की भूमिका अतिमहत्वपूर्ण है। यह बात कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने कही है। आपने कहा कि अन लॉक की रियायतों का मतलब ये नहीं कि हम कोरोना को पूरी तरह नजर अंदाज कर के बे परवा हो जाएं। ऐसा बिल्कुल नहीं होना चाहिए। प्रत्येक नागरिक को अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों का एहसास खुद में पैदा करना होगा और एक जिम्मेदार नागरिक की हैसियत से खुद की सुरक्षा के साथ आम नागरिकों की सुरक्षा का भी खयाल रखना होगा। अनलॉक के दौरान नागरिकों की दिनचर्या और व्यवहार पर बहुत कुछ निर्भर करेगा। अब नागरिकों को और अधिक अनुशासित और संयमित रहने की आवश्यकता होगी। बाजारों, दुकानों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में भीड़ से बचना और एक दूसरे से अपेक्षित दूरी बना कर रखना नितांत आवश्यक है। व्यवसायी और ग्राहक तथा आम नागरिक दी गई रियायतों से लाभांवित हों मगर शर्तों के साथ। एक दूसरे से अपेक्षित दूरी बना कर रखना, मास्क तथा सुरक्षा संसाधनों का उपयोग करना ही कोरोना के विरुद्ध हमारे प्रयासों को सफलता प्रदान करेगा, किन्तु इसका उल्लंघन हमारे और समाज के लिए हानिकारक हो सकता है। याद रखें अभी हमारी जंग समाप्त नहीं हुई है, प्रशासनिक अमला नागरिकों की सुरक्षा के लिए मोर्चे पर डटा हुआ है, किन्तु नागरिकों का सहयोग नितांत आवश्यक है। कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने विश्वास जताया है कि आम नागरिक हालात की गंभीरता को समझ कर पूर्व की भांति प्रशासन को अपना सहयोग जारी रखेंगे और अन लॉक की रियायतों में भी सुरक्षा उपायों और प्रतिबंधों का पालन करते रहेंगे। कलेक्टर महोदय द्वारा अनुमोदित

(3)

प्रवासी मजदूरो का पंजीयन कार्य जारी

Not Found

उज्जैन: आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल के निर्देशानुसार उज्जैन शहर के ऐसे प्रवासी मजदूर जो 1 मार्च 2020 के पश्चात् कोरोना आपदा के कारण म.प्र. के बाहर से अपना रोजगार छोड़कर वापस उज्जैन शहर आये हैं का पंजीयन नगर पालिक निगम उज्जैन द्वारा किया जा रहा है। माननीय मुख्यमंत्री म.प्र. शासन के निर्देशानुसार ऐसे पंजीकृत श्रमिकों को शासन नियमानुसार विभिन्न प्रकार के लाभ प्रदाय किये जा सकेंगे। 1 मार्च 2020 के पश्चात् उज्जैन शहर वापस आये सभी श्रमिक कृपया नगर पालिक निगम उज्जैन के छत्रपति शिवाजी भवन, आगर रोड़ स्थित कार्यालय नगर शहरी गरीबी उपशमन प्रकोष्ठ के कक्ष क्रमांक 214 अथवा नगर निगम उज्जैन के झोन कार्यालय में उपस्थित होकर अपने एवं अपने परिवार के उम्र 18 वर्ष से 59 वर्ष के मध्य सदस्यों का आवेदन कर पंजीयन करवा सकते हैं। यह पंजीयन 3 जून 2020 तक किया जाएगा। अतः आवश्यक रूप से 3 जून 2020 के पूर्व अपना पंजीयन करवा लेंवे, पंजीयन के लिए आधार कार्ड, बैंक पास की काॅपी, समग्र आईडी, एक पासपोर्ट साईज फोटो के साथ निगम कार्यालय में आवेदन जमा करवा सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए दूरभाष क्रमांक 0734-2535225, 9827449527, 8819955465 पर सम्पर्क कर सकते है।

(4)

माहापौर द्वारा भोजन वितरण

Not Found

उज्जैन: महापौर श्रीमति मीना विजय जोनवाल द्वारा रेल्वे मजदुर संघ द्वारा नगर निगम को उपलब्ध कराये गये भोजन के पैकेट्स कोे काॅसमाॅस माॅल के सामने सब्जी मण्डी शेड़ में रुके हुए गरीबों एवं रैन बसेरा में ठहरे हुए व्यक्तियों को भोजन के पैकेट एवं बच्चांे को टाॅफी एवं बिस्कुट वितरित किये गए। इस अवसर पर झोनल अधिकारी श्री डी.एस.परिहार, उपयंत्री श्रीमती विधु कौरव, श्री जितेन्द्र श्रीवास्तव उपस्थित रहे।

(5)

शहर में निरंतर जारी के सफाई एवं सेनेटाईजेषन कार्य

Not Found

उज्जैन: आयुक्त श्री क्षिजित सिंघल के निर्देषानुसार सम्पूर्ण शहर में सफाई एवं छिड़काव कार्य निरंतर कराया जा रहा है। कचरा कलेक्षन वाहनों के माध्यम से नियमित डोर टू डोर कचरा कलेक्ट किया जा रहा है वही सम्पूर्ण क्षेत्र में सफाई कार्य भी किया जा रहा है साथ ही सम्पूर्ण क्षेत्र के साथ कंटेनमेंट क्षेत्र में बडे टेंकर में माध्यम से एवं छोटी गलीयों में कर्मचारियों के माध्यम से सोडियम हाइपो क्लोराइड का भी छिड़काव कराया जा रहा है।

(6)

पैच वर्क तत्काल पूर्ण करें, अन्य निर्माण कार्यों को गति दें: आयुक्त श्री सिंघल

Not Found

उज्जैन: एक सप्ताह पूर्व आयोजित समीक्षा बैठक में आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल ने सभी जोनल प्रभारियों को निर्देशित किया था कि 15 जून से पूर्व आवश्यक निर्माण कार्य पूर्ण कराएं तथा पैच वर्क कार्य भी एक सप्ताह में मुकम्मल कर लें। आयुक्त श्री सिंघल के निर्देश पर निर्माण एवं पैच वर्क कार्य आरंभ होकर प्रचलित हैं। इसी दौरान आयुक्त ने पुनः निर्देशित किया है कि अपेक्षित पैच वर्क कार्य, डामरीकरण तत्काल पूर्ण कराएं, इसमें अधिक समय ना लगाएं। जहां आवश्यक हो वहां कार्य कराए जाने में विलम्ब ना करें। इसी के साथ ही जो निर्माण कार्य वर्षा की दृष्टि से आवश्यक हैं, विशेषकर जलभराव क्षेत्रों में जो कार्य जन सुविधा की दृष्टि से कराए जाना अति आवश्यक हैं उन्हें सर्वोच्च प्राथमिकता में लेकर तत्काल आरंभ कराते हुए 15 जून से पूर्व पूर्ण कराए जाना सुनिश्चित करें । गत वर्ष को सामने रखें आयुक्त श्री सिंघल ने निर्देशित किया है कि संबंधित जोनल इंजीनियर गत वर्ष के वर्षा काल एवं जलभराव की स्थिति को सामने रखते हुए यह देखें कि जो समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं उनका समाधान किस प्रकार सुनिश्चित किया जाए। स्वयं स्थल निरीक्षण कर कार्य कराए जाना सुनिश्चित करें। जो कार्य तत्काल कराए जा सकते हैं उन्हें तत्काल कराएं, जिनमें किसी प्रकार की स्वीकृति इत्यादि की प्रक्रिया आवश्यक हो उसे भी तत्काल पूर्ण करें और यह सुनिश्चित करें कि उनके जोन अंतर्गत वर्षा काल में किसी प्रकार की कोई समस्या उत्पन्न ना होगी। जो कार्य बड़े बजट के तथा लंबी समयावधि के हैं उन्हें भी टाला ना जाए बल्कि उनके संबंध में भी प्रक्रिया को गति दी जाए।