May-2022

(1)
20 May 2022

उज्जैन में बनेगा मध्यप्रदेश का पहला अमृत सरोवर

Not Found

विष्णु सागर के द्वितीयक तालाब का पुनरुजीविकरण उज्जैन: पिछले 1 माह से विष्णु सागर के द्वितीयक तालाब में उज्जैन नगर निगम और एनवायरमेंटलिस्ट फाउंडेशन इंस्टिट्यूट (ई.एफ.आई) द्वारा तालाब का गहरीकरण और सौंदर्यकरण कार्य किया जा रहा है। विशेष बात यह है की इस तालाब में गहरीकरण के दौरान भगवान विष्णु जी की पुरातात्विक मूर्तियां पाई गई है। हाल ही में भारत सरकार द्वारा अमृत सरोवर अभियान की घोषणा की गई थी। अमृत सरोवर अभियान के अंतर्गत देश में ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में जो तालाब मृत अवस्था में पहुंच गए हैं ऐसे तालाबों का गहरीकरण करवा कर उन तालाबों की जल संचयन क्षमता बढ़ाई जाने की कोशिश की जाए। इन तालाबों की परीसीमा में आने वाले जलीय इकाइयों का जलस्तर बढ़ाया जा सके। उज्जैन नगर पालिका निगम द्वारा अमृत सरोवर अभियान के अंतर्गत ईएफआई संस्था के साथ जुड़कर मध्य प्रदेश का पहला अमृत सरोवर निर्माण करने का प्रयास किया जा रहा है। यह अमृत सरोवर विष्णु सागर के आसपास के क्षेत्र के किसानों के लिए बड़ी सौगात लेकर आएगा। इस सरोवर की 20000 क्यूबिक मीटर यानी 2 करोड़ लीटर पानी संचयन क्षमता बढ़ेगी, साथ ही बारिश के दिनों में जल संवर्धन 50 प्रतिशत तक बढ़ जाएगा और यह सरोवर सच में अमृत सरोवर जैसा कार्य करेंगा। ईएफआई संस्था द्वारा इस तालाब में विचरण करने वाले पंछियों का सर्वे किया गया है। ईएफआई एवं नगर पालिक निगम उज्जैन इस अमृत सरोवर के आसपास हरियाली तथा मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए मनोरंजन हेतु उद्यान निर्माण कर इस तालाब का सौंदर्य बढ़ाने की कोशिश की जाएगी। इस सरोवर में फाउंटेन लगाकर इस तालाब की बीओडी तथा सीओडी, यानी बायोलॉजिकल ऑक्सीजन डिमांड और केमिकल ऑक्सीजन डिमांड को अच्छा करने की कोशिश की जाएगी ताकि जलीय जीव जंतु तथा मछलियों का इनमे वास हो सके। यह अमृत सरोवर शहर को सही तरीके से वाटर प्लस बनाएगा।

(2)
18 May 2022

प्रभारी मंत्री श्री जगदीश देवड़ा ने किया 13 करोड़ के विकास कार्यो का भूमि पूजन एवं हितग्राहियों को हितलाभ वितरण

Not Found

उज्जैन: मिशन नगरोदय अन्तर्गत विकास कार्यों के भूमि पूजन/लोकार्पण हितग्राहियों को हितलाभ वितरण व नागरिकों से संवाद कार्यक्रम मा. मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में मंगलवार को भोपाल में संपन्न हुआ। उक्त कार्यक्रम का आयोजन निकाय स्तर पर भी किया गया। नगर पालिक निगम द्वारा मंगलवार को विक्रम कीर्ति मदिर, कोठी रोड़, पर मिशन नगरोदय कार्यक्रम प्रभारी मंत्री श्री जगदीश देवड़ा के मुख्य आतिथ्य एवं सांसद श्री अनिल फिरोजिया, विधायक श्री पारसचन्द्र जैन, नगर अध्यक्ष श्री विवेक जोशी एवं ग्रामीण अध्यक्ष श्री बहादुर सिंह बोरमुण्डला, पूर्व निगम सभापति श्री सोनू गेहलोत, जिलाधीश श्री आशिष सिंह, निगम आयुक्त श्री अंशुल गुप्ता, अपर आयुक्त श्री आदित्य नागर के आतिथ्य में संपन्न हुआ। कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि प्रभारी मंत्री श्री जगदीश देवड़ा ने कहां की प्रदेश में निरंतर विकास कार्य करवाए जा रहे हैं जिसके अंतर्गत आज माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह जी चौहान द्वारा संपूर्ण प्रदेश के 21000 करोड़ के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि पूजन के साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना एवं प्रधानमंत्री स्व निधि योजना के हितग्राहियों को हितलाभ वितरित किया जा रहा है जिसके अंतर्गत उज्जैन शहर के 13 करोड़ के विभिन्न निर्माण कार्यों का भूमि पूजन, एवं हितग्राहियों को हितलाभ वितरण आज हमारे द्वारा किया गया। सांसद श्री अनिल फिरोजियों ने संबोधित करते हुए कहां कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश को एक बिमारू राज्य से विकसित राज्य की श्रेणी में लेकर आए है, मुख्यमंत्री जी के द्वारा प्रारंभ की गई लाड़ली लक्ष्मी योजना की सरहाना ना केवल प्रदेश बल्कि देश भर में हुई है। मैं सभी को बधाई देना चाहुंगा कि विकास कार्यों के माध्यम से नई सौगाते शहर वासियों को प्राप्त हो रही है। विधायक श्री पारसचन्द्र जैन ने कहां कि नगरोदय मिशन से उज्जैन शहर को कई प्रमुख सौगाते मिलने जा रही है साथ ही कई निर्माण एवं विकास कार्य एक साथ प्रारंभ हो रहे है सभी शहर वासियों से आग्रह है कि शासन द्वारा किये जा रहे अच्छे कार्यो का अधिक से अधिक प्रचार प्रसार किया जाए।

(3)
10 May 2022

स्वरोजगार स्थापित करने हेतु ऋण आवेदन आमंत्रित

Not Found

08 जून तक कर सकते है आवेदन उज्जैन: नगर निगम उज्जैन के राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन विभाग में बीपीएल हितग्राहियों को स्वरोजगार स्थापित करने व आत्मनिर्भर बनाने के लिए राशि रूपये 02 लाख तक के ऋण आवेदन करने की प्रक्रिया दिनांक 09 मई 2022 से 08 जून 2022 तक नगर निगम उज्जैन में प्रारम्भ की गई है। राष्ट्रिय शहरी आजीविका मिशन के योजना प्रभारी ने बताया कि ऐसे गरीबी रेखा कॉर्ड धारक हितग्राही जो ऋण के माध्यम से स्वयं का व्यवसाय स्थापित करना चाहते हैं ऐसे हितग्राही दिनांक 08 जून 2022 तक आवेदन नगर निगम उज्जैन के कक्ष क्रमांक 214 व 114 में जमा कर सकते हैं। आवेदन हेतु हितग्राही की 18 से 45 वर्ष की आयु तथा हितग्राही का बीपीएल का कार्ड होना अनिवार्य है साथ ही आवेदन के साथ गरीबी रेखा का राशन कार्ड, समग्र आईडी, शिक्षा प्रमाणपत्र, व्यवसाय की प्रोजेक्ट रिपोर्ट, बैंक पासबुक, राशन कार्ड की फोटो कॉपी व फोटो संलग्न करना अनिवार्य है। निर्धारित अवधि के बाद आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे। इसी प्रकार प्रधान मंत्री स्ट्रीट वेंडर योजना अंतर्गत 10,000 एवं 20,000 के ऋण आवेदन भी बैंको को प्रेषित किए जा रहे हैं। इच्छुक पथ विक्रेता आवेदन करने हेतु उपरोक्त अभिलेख के साथ कक्ष क्र 214 में उपस्थिति हो कर आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण करें।

(4)
7 May 2022

15 वे वित्त आयोग के अंतर्गत मुख्यमंत्री संजीवनी क्लिनिक संचालित किए जाएंगे

Not Found

उज्जैन: शासन निर्देशानुसार 15 वें वित्त आयोग अंतर्गत मुख्यमंत्री संजीवनी क्लिनिक का संचालन समस्त झोन अंतर्गत आने वाले स्लम क्षेत्रों में किया जाएगा। संजीवनी क्लिनिक संचालन हेतु 16 स्थानों का चयन किया गया है, निगम द्वारा प्रारंभ किए जाने वाले संजीवनी क्लीनिक का शुभारंभ माननीय मुख्यमंत्री जी के कर कमलों से किया जाना प्रस्तावित है। शुक्रवार को अपर आयुक्त श्री मनोज पाठक द्वारा संजीवनी क्लिनिक संचालन एवं शुभारंभ कार्यक्रम की व्यवस्थाओं के संबंध में बैठक आयोजित करते हुए चर्चा की गई एवं आवश्यक निर्देश प्रदान किये गए। बैठक में अधीक्षण यंत्री श्री जे.के. कठिल, कार्यपालन यंत्री श्री पीयूष भार्गव, श्री डी.एल. दौराया, जनसंपर्क अधिकारी श्री सुनील जैन एवं समस्त झोन के झोनल अधिकारी के साथ ही मुख्य चिकित्सा विभाग के सदस्यगण उपस्थित रहे। संजीवनी क्लीनिक संचालन हेतु स्थल निरीक्षण अपर आयुक्त श्री मनोज पाठक द्वारा शुक्रवार को झोन क्रमांक 05 अंतर्गत विधायक नगर, पवासा, झोन क्रमांक 03 में रविशंकर नगर पत्रकार कॉलोनी स्थित निगम द्वारा संचालित सामुदायिक भवन में संजीवनी क्लीनिक के संचालन हेतु आवश्यक व्यवस्थाएं कराए जाने हेतु निरीक्षण किया गया।

(5)
7 May 2022

राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त एवं विकास निगम उद्यमी योजनान्तर्गत

Not Found

8 सफाई मित्र परिवार के युवाओं को निजी सीवर क्लीनिंग वाहन संचालित करने की अनुमति मिली उज्जैन: राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त एवं विकास निगम उद्यमी योजनान्तर्गत 8 सफाई मित्र परिवार के युवाओं को निजी सीवर क्लीनिंग वाहन संचालित करने की अनुमति शर्तों के अधीन प्रदान की गयी है। इन आवेदकों को उक्त योजना अंतर्गत बैंक से वाहन, मशीने एवं अन्य उपकरण क्रय किये जाने हेतु ऋण प्रदाय किया जायेगा। तत्पश्चात् निम्न शर्तों के अधीन शहर के रहवासियों को डी स्लजिंग सेवा प्रदान की जा सकेगी। 1. डी स्लजिंग सेवा शुल्क का निर्धारण सम्बन्धित एजेंसी द्वारा अपने स्तर पर किया जा सकेगा किन्तु यदि नगर निगम को आवश्यकता होगी तो निगम द्वारा निर्धारित दरों पर डी-स्लजिंग कार्य करना अनिवार्य होगा। 2. स्लज/मल को खुले में डंप नहीं किया जाएगा। स्लज/मल को सदावल अथवा सुरासा स्थित एफएसटीपी प्लांट पर शोधन हेतु भेजना अनिवार्य होगा। यदि अन्य स्थलों पर डंप करते हुए पाया जाता है तो नियमानुसार पेनल्टी की कार्यवाही की जायेगी। 3. तरल अपशिष्ट प्रबन्धन अधिनियम एवं समय-समय केंद्र शासन एवं राज्य शासन द्वारा जारी निर्देशों का पालन किया जायेगा। 4. उज्जैन नगर पालिक निगम द्वारा असुरक्षित सीवर/सेप्टिक टैंक की सफाई को प्रतिबंधित किया गया है अतः कर्मचारियों द्वारा निर्धारित यूनिफार्म एवं आवश्यक पीपीई उपकरणों का उपयोग अनिवार्य रूप से किया जायेगा, जिन्हें आपको स्वयं के द्वारा उपलब्ध कराया जाना आवश्यक होगा। 5. सम्बन्धित एजेंसी को सीवर वाहनों पर कार्यरत कर्मचारियों का बीमा अनिवार्य रूप से करवाना होगा तथा कर्मचारियों को शासन के निर्देशानुसार जोखिम भत्ता भी प्रदाय करना अनिवार्य होगा। 6. डी-स्लजिंग वाहनों पर सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज तथा टोल फ्री शिकायत नं. 14420 की ब्रांडिंग, जीपीएस एवं इसकी मॉनिटरिंग हेतु स्मार्ट सिटी कण्ट्रोल रूम से सम्बद्धता, प्राप्त शिकायतों का त्वरित निवारण अनिवार्य रूप से करना होगा। 7. उज्जैन नगर निगम किसी प्रकार का रोजगार दिलाने के लिए बाध्य नहीं है। 8. उक्त शर्तों का पालन न किये जाने पर संबंधित एजेंसी से अधिकृत सेप्टिक टैंक डी स्लजिंग सेवा प्रदाता का दर्जा वापस लिया जा सकेगा तथा नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।

(6)
5 May 2022

कंट्रोल रूम प्रभारी राजेश तिवारी को किया निलंबित

Not Found

उज्जैन: कंट्रोल रूम प्रभारी राजेश तिवारी को नगर निगम आयुक्त श्री अंशुल गुप्ता ने मा. श्रम न्यायालय मे गलत गवाही देने के प्रकरण में निलंबित किया है। श्री तिवारी का निलंबन अवधि में मुख्यालय गोंदिया ट्रेंचिग ग्राउण्ड रहेगा। कंट्रोल रूम प्रभारी राजेश तिवारी द्वारा मनसुख पिता गणेश एवं श्री जगदीश पिता नारायण द्वारा श्रम न्यायालय, उज्जैन में दायर प्रकरण का प्रभारी अधिकारी नियुक्त नही किया गया था, किन्तु राजेश तिवारी द्वारा प्रकरण में निगम की ओर से गलत गवाही दी गई कि ‘‘यह सही है कि प्रार्थीगण सफाई कामगारों के रिक्त व स्थाई व स्वीकृत पद पर लगातार संतोषजनक रूप से कार्य किया है।’’ इस गवाही के कारण जो कर्मचारी नगर निगम में नियमानुसार कार्यरत नहीं थे, उन्हें नियमित नियुक्त करने एवं दिनांक 29.09.2011 से गणना कर सफाई कामगार के पद वेतन एवं एरियरर्स की राशि का भुगतान 90 दिनों में करने के आदेश न्यायालय द्वारा जारी किये गये। यह राशि दिनांक 29.09.2011 से 31.08.2016 तक कुल रुपये 17,68,980/- होती है, जिसका संबंधित व्यक्तियों को भुगतान किया जाना है तथा उक्त दिनांक के बाद आज दिनांक तक की राशि भुगतान की जाना है उसकी गणना शेष है। उक्त गवाही के कारण माननीय उच्च न्यायालय में भी नगर पालिक निगम, उज्जैन का पक्ष समर्थन ठीक प्रकार से नहीं किया जा सका। प्रकरण में श्री राजेश तिवारी, प्रभारी कन्ट्रोल रूम द्वारा लापरवाही की जाकर निगम हित के विरुद्ध माननीय न्यायालय में गवाही देकर निगम को हानि पहुंचाने का कार्य किया गया है। श्री राजेश तिवारी, प्रभारी कन्ट्रोल रूम को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाकर विभागीय जांच संस्थित की गई है। निलंबित अवधि में इनका मुख्यालय गोंदिया ट्रेंचिंग ग्राउण्ड रहेगा।

(7)
5 May 2022

झोन क्र. 3 अन्तर्गत सफाई व्यवस्था के निरीक्षण के दौरान आयुक्त ने दिए निर्देश

Not Found

उज्जैन: बुधवार को आयुक्त श्री अंशुल गुप्ता द्वारा झोन क्र. 3 अन्तर्गत डाबरी पीठा, लोहे का पुल, खंदार मोहल्ला, कोट मोहल्ला इत्यादि क्षेत्रों की सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान नाले एवं नालियों पर अतिक्रमण पाये जाने पर इन्हें रिमुवल गैंग के माध्यम हटवाये के निर्देश दिये गए। आपने कहा कि शहर के नाले एवं नालियों की सफाई व्यवस्था पर भी विशेष ध्यान दिया जाए, जहां कभी भी नालियों पर अतिक्रमण के कारण सफाई व्यवस्था प्रभावित हो रही है वहां रिमुवल गैंग के माध्यम से हटवाये जाकर सफाई कार्य करवाया जाए, यह सुनिश्चित किया जाए की नियमित रूप से नाला गैंग के माध्यम से नाले एवं नालियों की सफाई हो। आपने रहवासियों से सफाई व्यवस्था के सम्बंध चर्चा करते हुए शहर को साफ एवं स्वच्छ बनाये रखने में निगम द्वारा किये जा रहे कार्यो में सहयोग प्रदान करने की अपील करते हुए गीला एवं सुखा कचरा पृथक पृथक रखने एवं कचरा कलेक्शन वाहन में ही डालने, गीले कचरे से खाद बनाने तथा पॉलीथिन का उपयोग नहीं करने की समझाईश दी गई। निरीक्षण के दौरान उपायुक्त श्री संजेश गुप्ता, झोनल अधिकारी श्री डी. एस. परिहार, स्वास्थ्य निरीक्षक श्री मुकेश भाटी उपस्थित रहे।

(8)
5 May 2022

निर्धारित समयसीमा अनुसार हो कचरा कलेक्शन वाहनों का संचालन - आयुक्त

Not Found

वार्ड नोडल अधिकारियों को स्टेण्डअप मिटिंग में आयुक्त ने दिये निर्देश उज्जैन: वार्ड वार कचरा कलेक्शन हेतु संचालित डोर टू डोर कचरा कलेक्शन वाहनों द्वारा निर्धारित टाईमटेबल अनुसार कचरा कलेक्शन किया जा रहा है या नहीं इसकी मानिटरिंग की जाना अत्यंत आवश्यक है। वार्ड नोडल अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि कचरा कलेक्शन वाहन रूट चार्ट अनुसार निर्धारित स्थल पर समय पर पहुंचे। यह निर्देश आयुक्त श्री अंशुल गुप्ता जी द्वारा बुधवार को ग्राण्ड होटल में आयोजित स्टेण्डअप के दौरान वार्ड नोडल अधिकारियों को दिये गए। साथ ही आपने निर्देशित किया कि वाहनों में कार्यरत हेल्पर निर्धारित डेªस कोड, मास्क एवं ग्लब्स में कार्य करें एवं उनके द्वारा कचरा पृथक पृथक रूप से प्राप्त किया जा रहा है या नहीं इसकी भी मानिटरिंग की जाए। आई.ई.सी. टीम के सदस्य नियमित रूप से वार्डों में जनजागरूकता कार्यøम आयोजित करें तथा रहवासियों को स्वच्छता के प्रति समझाईश दें कि घरों से निकलने वाले कचरे को अलग-अलग डस्टबिन में रखकर नगर निगम द्वारा संचालित कचरा कलेक्शन वाहनों में ही दिया जाए, गीले कचरे का उपयोग खाद बनाने हेतु किया जाए।

(9)
4 May 2022

ईद उल फितर पर मुस्लिम समाज को दी मुबारकबाद*

Not Found

उज्जैन: मंगलवार को ईद उल फितर (मीठी ईद) के अवसर पर इंदिरा नगर स्थित ईदगाह पर जिलाधीश महोदय श्री आशीष सिंह जी,पुलिस अधीक्षक महोदय श्री सत्येंद्र कुमार शुक्ला जी एवं नगर निगम आयुक्त श्री अंशुल गुप्ता जी द्वारा प्रशासकीय अमले की उपस्थिति में मुस्लिम समाज के धर्मगुरु और समाजजनों को ईद की मुबारकबाद दी गई। नगर निगम द्वारा ईद के अवसर पर ईदगाह पर विशेष रुप से सफाई और शामियाने की व्यवस्था गई।

(10)
3 May 2022

निगम मुख्यालय में सुनिधि से समृद्धि शिविर का आयोजन

Not Found

उज्जैन: भारत सरकार के विभिन्न योजनाओं से जोड़े जाने हेतु सुनिधि से समृद्धि शिविर का आयोजन दिनांक 02.05.2022 से 07.05.2022 तक नगर निगम मुख्यालय में किया जा रहा है। शिविर के माध्यम से प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना, भवन एवं अन्य निर्माण कार्य में पंजीयन, एक देश एक राशन कार्ड, जननी सुरक्षा योजना आदि योजनाएं से हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाएगा। पात्र हितग्राहियो को विभाग द्वारा कॉलिंग के माध्यम से संबंधित विभाग से समन्वय स्थापित करते हुए योजनाओ से जोड़ने की कार्यवाही की जा रही है। नागरिको से अपील है कि निगम मुख्यालय में आयोजित सुनिधी से समुद्धि शिविर में पहुंचकर योजनाओं का लाभ प्राप्त करें।

(11)
2 May 2022

“द बार्सिलोना चैलेंज फॉर गुड फूड एंड क्लाइमेट” में

Not Found

देश के शीर्ष 10 शहरों में उज्जैन भी शामिल उज्जैन: स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने ईट स्मार्ट चैलेंज में भाग लेकर देश भर के शीर्ष 10 शहरों में उज्जैन शहर को चयनित किया गया था। इसके अलावा उज्जैन स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने “द बार्सिलोना चैलेंज फॉर गुड फूड एंड क्लाइमेट” में भी भाग लिया और देश के शीर्ष 10 शहरों में अपना स्थान हासिल किया। 28 अप्रैल, 2022 को उज्जैन स्मार्ट सिटी लिमिटेड के कार्यकारी निदेशक श्री अंशुल गुप्ता द्वारा चैलेंज की आधिकारिक ऑनबोर्डिंग समारोह के दौरान प्रतिबद्धता पत्र पर हस्ताक्षर किए। वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान मिलान के वाइस मेयर अन्ना स्कावुज़ो, स्मार्ट सिटीज मिशन के संयुक्त सचिव और मिशन निदेशक श्री कुणाल कुमार, एफ.एस.एस.ए.आई. की कार्यकारी निदेशक सुश्री इनोशी शर्मा, श्री अभिषेक दुबे, संयुक्त नियंत्रक, एफ.डी.ए.एम.पी. और अन्य शहरो के सभी प्रतिनिधि उपस्थित रहे। भारत के 10 शहरों ने उपभोक्ताओं को सुरक्षित और अच्छा भोजन उपलब्ध कराने के लिए एक योजना प्रस्तुत की। वर्चुअल कांफ्रेंस के दौरान उज्जैन स्मार्ट सिटी लिमिटेड के सी.ई.ओ. श्री आशीष पाठक ने बताया कि उज्जैन अन्य सभी चयनित शहरों में अद्वितीय है देश में सबसे पुराने और मंदिरों के प्रभुत्व वाले शहर में प्रमुखतः श्री महाकालेश्वर मंदिरो मे से एक है। उज्जैन में समय-समय पर अनेक त्यौहारों का आयोजन होता है जिसमे पूरे देश से तीर्थयात्री/श्रद्धालु बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। इसलिए एक ऐसी योजना बनाने की आवश्यकता है जो तीर्थयात्री/श्रद्धालु/उपभोक्ताओं तक सुरक्षित और स्वस्थ भोजन उपलब्ध हो सके। श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंधन समिति द्वारा संचालित अन्नक्षेत्र एवं लड्डू प्रसाद यूनिट देश की पहली और एक मात्र FSSAI द्वारा 2019 में प्रमाणित व्यवस्था है जो FSSAI की एक महत्वकांशी योजना “सेफ भोग पैलेस” का हिस्सा है साथ ही यह 5 स्टार हाइजीन रेटेड भी है। आगामी एक वर्ष में उज्जैन स्मार्ट सिटी लिमिटेड उज्जैन नगर निगम, खाद्य विभाग, महिला एवं बाल कल्याण विभाग के साथ मिलकर उक्त योजना के क्रियान्वयन के लिए कार्य करेगी।

(12)
2 May 2022

स्वच्छता सर्वेक्षण में नम्बर 1 बनाने हेतु..

Not Found

उज्जैन शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण में नम्बर 1 बनाने हेतु महत्वपूर्ण हैं शहरवासियों का सहयोग फिडबेक देने का आज अंतिम अवसर सकारात्मक फिडबेक देकर बनाये उज्जैन को स्वच्छता में नम्बर 1 उज्जैन: शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में उत्कृष्ठ स्थान दिलाने हेतु नगर निगम द्वारा प्रत्येक स्तर पर अथक प्रयास किये जा रहे है। निगम द्वारा शहर की सुंदरता हेतु आकर्षक 3डी वॉल पेंटिंग, थ्री आर पद्धति के माध्यम से वेस्ट सामग्री का उपयोग कर आकर्षक कलाकृतियों का निर्माण, शहरी की गंदी गलिया कहलाए जाने वाली बैकलेन गलियों का सौन्दर्यीकरण, शहर के धार्मिक एवं व्यावसायिक क्षैत्रों में दिन-रात सफाई व्यवस्था बनाए रखना, शहर की जल संरचनाओं नदी, तालाब, कुंए बावड़ियों की साफ-सफाई एवं उनके संरक्षण सहित सम्पूर्ण शहर की सफाई व्यवस्था का कार्य पूर्ण समर्पण भाव से किया जा रहा है। शहर को स्वच्छ एवं संुदर बनाये रखने का जितना उत्तरदायित्व नगर निगम का है उतना ही शहरवासियों का भी है। गत स्वच्छता सर्वेक्षणों में शहर को जो स्थान प्राप्त हुआ है उनमें शहरवासियों की भी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। शहरवासियों के सहयोग से ही स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 में हमारे शहर को सिटीजन फीटबैक में नम्बर वन का खिताब प्राप्त हुआ था। नागरिक सहभागिता घटक स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 का एक महत्वपूर्ण भाग है, जिसमें शहरवासी अधिक से अधिक फिटबैक देकर उज्जैन को बेहतर रैंकिंग हासिल करा सकते है। आयुक्त श्री अंशुल गुप्ता ने शहरवासियों से अपील की है कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 अन्तर्गत नागरिकों के फीडबैक प्रस्तुत करने की आज अंतिम तिथि है। समस्त शहरवासियों से अनुरोध है कि वे अपने शहर के सम्मान एवं गौरव को बनाये रखने हेतु सकारात्मक फिडबैक देकर निगम को सहयोग प्रदान करें। कैसे दे सकते हैं फीडबैक 1. गूगल प्ले स्टोर या एप्पल स्टोर से वोट फॉर योर सिटी 2022 एप डाउनलोड करके इस एप के माध्यम से नागरिक अपना फीडबैक दे सकते हैं। 2. https://ss&cf.sbmurban.org/#/feedback लिंक के माध्यम से भी फीडबैक दिया जा सकता है। 3. क्यू आर कोड के माध्यम से भी फीडबैक दिया जा सकता है। नागरिक फीडबैक देने के लिए अपनी जानकारी, मोबाइल नंबर, ओटीपी और पूछे गये सवालों के सकारात्मक जवाब देकर भर सकते हैं। स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में उज्जैन की सम्पूर्ण भारत में 10वीं एवं अपनी जनसंख्या वाली श्रेणी में 5वीं रैंक आई थी एवं निगम इस वर्ष जमिनी स्तर की तैयारियों के आधार पर और बेहतर रैंक लाने का दावा कर रहा है।